08 साल सिद्गी राठौड़ कि पेंटिंग कला की जमकर हो रही तारीफ…. चाकलेट खाने ओर कार्टून देखने की उम्र में छोटी प्रतिभा ने मन लिया मोह….

पेटलावद। धर्म ओर भक्ति के मार्ग पर चलने की कोई आयु नही होती ।हमारे देश मे कम आयु मे धर्म ओर आस्था के मार्ग पर चलकर समाज और देश को सत्य के मार्ग पर चलने का मार्ग दिखाने वाले अनेक सन्तो महात्माओं की कथा प्रचिलत है।इसी तरह से कला और प्रतिभा की भी न तो कोई आयु होती है और न ही सुविधाओ की जरूरत, यह तो ईश्वर का विशेष वरदान होती है

*नन्ही बालिका की कलाकृति*

पेटलावद की एक नन्ही बच्ची मैं अपने अल्पायु में ही धर्म और आस्था के गुण देखने को मिल रहे है ।पेटलावद के शीतला माता चोक निवासी मनोज (टीललु)राठौड़ की 08 वर्शीय पुत्री सिद्धि राठौड़ ने भगवान शिव की आकर्षक पेंटिंग बनाई है। जो बरबस हि
देखनेवालो का मन मोह लेती है। चाकलेट खाने और कार्टून देखने की इस आयु में सिद्धि के इस कला की आस पास केरहवासी जमकर तारीफ कर रहे है।

 

Add a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!