अर्पिता मुखर्जी के दूसरे घर से 15 करोड़ कैश सहित करोड़ों के जेवरात मिले, ED टीम की जांच जारी….

पश्चिम बंगाल के शिक्षा विभाग में हुए घोटाले की जांच में जुटी केंद्रीय एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय को अर्पिता मुखर्जी के एक और घर से नोटों का खजाना मिला है। बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के एक और घर में आज ईडी की छापेमारी चल रही है। जहां से एजेंसी को नोटों का अंबार मिला है। अर्पिता के घर मिले नोटों के गिनने के लिए ईडी को नोट गिनने वाली मशीन मंगवानी पड़ी है। शुरुआती जानकारी के अनुसार अर्पिता के दूसरे घर से अभी तक 15 करोड़ कैश, करोड़ों के जेवरात मिले।

आज की छापेमारी के बारे में ईडी से जुड़े सूत्रों ने बताया कि बुधवार दोपहर बाद अर्पिता मुखर्जी के क्लब टाउन स्थित एक अपॉर्टमेंट में ईडी की टीम पहुंची। जहां छापेमारी के दौरान भारी मात्रा में कैश मिला। अभी अर्पिता के इस घर में छापेमारी चल ही रही है। अर्पिता के इस घर से 2000 और 500 रुपए के नोटों का अंबार मिला। जिसकी गिनती के लिए ईडी को मशीन मंगवानी पड़ी। अबी तक की जानकारी के अनुसार यहां से 15 करोड़ कैश और तीन किलो सोना मिला है।

पूछताछ में अर्पिता ने लिया था पार्थ चटर्जी का नाम-
21 करोड़ कैश बरामदगी के बाद ईडी ने अर्पिता मुखर्जी को गिरफ्तार कर लिया था। अर्पिता की गिरफ्तारी के बाद बंगाल सरकार के मंत्री पार्थ चटर्जी को भी गिरफ्तार किया गया था। ईडी के अधिकारियों ने बताया कि पूछताछ के दौरान अर्पिता मुखर्जी ने यह कबूला कि उसके घर से बरामद रुपए पार्थ चटर्जी से जुड़े है। पूछताछ के दौरान अर्पिता ने यह भी बताया था कि उसके घर से बरामद रुपए को एक से दो दिन में कहीं खपाने की योजना थी। लेकिन इसी बीच ईडी की छापेमारी के बाद मामला खुलकर सभी के सामने आ गया।

अर्पिता के घर से जब्त डायरी से खुलेंगे घोटाले के राज-
बताते चले कि ईडी पश्चिम बंगाल के शिक्षक भर्ती घोटाले की जांच कर रही है। इस केस की जांच में ईडी को 22 जुलाई को तब बड़ी सफलता हाथ लगी थी कि जब अर्पिता मुखर्जी के घर से 21 करोड़ रुपए कैश बरामद किए गए थे। ईडी ने अर्पिता मुखर्जी के घर से एक डायरी भी बरामद की थी।
इस डायरी के 40 पन्नों पर शिक्षक भर्ती घोटाले से जुड़े कई राज लिखे हैं। ईडी इस डायरी को जब्त कर आगे की छानबीन में लगी है। बताया जा रहा है कि आज की छापेमारी पूरी होने के बाद ईडी की ओर से खुद इस मामले में आधिकारिक जानकारी साझा की जाएगी।

 

Add a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!